मुसाबनीतीन घंटे पहले

  • लिंक की प्रतिलिपि करें

सरकार ‘फूलो झानो आशीर्वाद’ योजना के तहत शराब और शराब की बिक्री और निर्माण में शामिल ग्रामीण महिलाओं को प्राथमिकता के आधार पर आत्मनिर्भर बनाने का काम कर रही है. इसी उद्देश्य से मुसाबनी प्रखंड वन प्रखंड में आयोजित सरकार आप के द्वार कार्यक्रम में पांच महिलाओं को इस योजना के तहत 10 हजार रुपये का ऋण दिया गया.

बीडीओ ने यह चेक वन प्रखंड पंचायत के पथरगोड़ा गांव निवासी साल्कू मुर्मू, मालती हेम्ब्रम, पार्वती बनारा, बसती मरडी और शकुंतला मरडी को दिया. इन महिलाओं ने बीडीओ सीमा कुमारी को आश्वासन दिया कि अब ये अस्थियां शराब नहीं बेचेंगी. बल्कि इस रकम से वह सब्जियों का व्यापार करेंगे। दरअसल इन महिलाओं ने बताया कि परिवार की आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण हादिया हाट बाजार व सड़क किनारे शराब बेचने का काम करती है.

जेएसएलपीएस द्वारा सर्वे कराने के बाद उक्त पांच महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करने की बात कही गयी और सभी को इस योजना की जानकारी दी गयी. तब खंड विकास अधिकारी सीमा कुमारी को सूचना दी गई। इसी क्रम में बुधवार को वन प्रखंड में आपके अधिकार, आपकी सरकार, आपके द्वार शिविर का आयोजन किया गया तो फूलो झानो आशीर्वाद योजना के तहत पांच महिलाओं को विभिन्न कार्यों के लिए बिना ब्याज लिए 10 हजार रुपये का ऋण प्रदान किया गया। जिससे वे बेहद खुश और नए हैं। वे रोजगार में शामिल होकर आर्थिक रूप से कमाने के लिए भी उत्सुक हैं।

प्रखंड विकास पदाधिकारी ने सभी को मंगलमय जीवन की शुभकामनाएं दी. साल्कू मुमू ने बताया कि उक्त राशि से वह सब्जी बेचने के लिए दुकान लगायेगा. जहां मालती को मुर्मू ने कहा कि वह एक छोटी सी दुकान लेगी और बच्चों के लिए खाने-पीने की चीजें बेचेगी, वहीं पार्वती बनारा ने कहा कि वह उक्त राशि से बकरियां पालेंगी। बसती मरडी ने बताया कि वह एक चाय की दुकान लगाएगी और शकुंतला मरडी ने कहा कि वह एक दुकान भी चलाएगी।

और भी खबरें हैं…

,

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here