ओडिशा के लिए 12 एवं छत्तीसगढ़ के लिए four बसों को रवाना किया जाएगा

सभी बसों में मजिस्ट्रेट की प्रतिनियुक्ति की गई है

बसों को सुबह नगर परिषद्, चाईबासा के द्वारा सैनिटाइज किया गया है

चाईबासा : कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के लिए निर्धारित लॉक डाउन अवधि में जिले के जो श्रमिक अन्य राज्यों में फंसे हुए हैं उनको वापस लाने के लिए आज बसें रवाना की जाएंगी। ओडिशा के लिए 12 एवं छत्तीसगढ़ के लिए four बसें जाएंगी।

बसों को किया गया है सैनिटाइज

उड़ीसा और छत्तीसगढ़ के लिए जाने वाली सभी बसों को आज नगर परिषद् चाईबासा द्वारा भली-भांति सैनिटाइज किया गया।

प्रत्येक बस में मजिस्ट्रेट और पुलिस बल की तैनाती

प्रत्येक बस में मजिस्ट्रेट और पुलिस पदाधिकारी की तैनाती की गई है। श्रमिकों की स्क्रीनिंग के पश्चात् उन्हें बस द्वारा वापस जिले में लाया जाएगा। जिला आने पर पुनः मेडिकल स्क्रीनिंग के उपरांत श्रमिकों को होम क्वॉरेंटाइन रहने के निर्देश के साथ उन्हें गांव घर तक पहुंचाया जाएगा।

ओडिशा और छत्तीसगढ़ से कितने श्रमिकों की होगी घर वापसी

ओडिशा के कोरापुट, रायगढ़ एवं गंजम से 15, पुरी एवं खोर्दा से 18, कटक से 19, जगतसिंहपुर से 25, भद्रक और संलग्न जिलों से 142, झारसुगड़ा और उसके निकटवर्ती जिलों से 16, अंगुल और केंदूझार से 20 श्रमिकों को वापस लाया जाएगा। छत्तीसगढ़ के कोरबा एवं संलग्न जिलों से 26, बिलासपुर और निकटवर्ती जिलों से 18, रायपुर और निकटवर्ती जिलों से 26, और बस्तर तथा बलौदा से 16 श्रमिक बस द्वारा लाए जाएंगे।