भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का एक और दीवाना फैन सामने आया है। हरियाणा के जालान खेड़ा के 18 वर्षीय अजय गिल धोनी से मिलने 16 दिन पैदल ही रांची पहुंचे. हाथों में तिरंगा और कंधे पर क्रिकेट किट लिए धोनी से मिलने 1436 किमी पैदल चलकर आए अजय गिल के पैरों में छाले पड़ गए हैं।

अजय के मुताबिक धोनी ने सपने में आकर उन्हें पैदल रांची आने को कहा। बस क्या थी, रांची के सफर पर निकल पड़े। उन्होंने बताया कि वह धोनी से मिलने के बाद ही यहां से वापस जाएंगे। धोनी उनसे मिलने में 10 मिनट भी नहीं लगा सकते जबकि वह इतनी लंबी दूरी पैदल तय कर सकते हैं। इसी जिद के साथ वह धोनी के फॉर्म हाउस सिमलिया के बाहर पहुंच गए हैं। हालांकि धोनी रांची में नहीं हैं. वह आईपीएल में अपनी टीम का हिस्सा बनने के लिए चेन्नई गए हैं।

अजय नाई का काम करता है, क्रिकेट खेलना चाहता है

अजय ने 12वीं पास कर ली है और फिलहाल अपने शहर में नाई का काम करता है। उन्होंने बताया कि वह क्रिकेट खेलते हैं और उसमें अपना करियर बनाना चाहते हैं। जब से महेंद्र सिंह धोनी ने संन्यास लिया है। उन्होंने खेलना छोड़ दिया था, लेकिन अब वह उनके आशीर्वाद से एक बार फिर से क्रिकेट खेलना चाहते हैं।

दो साल पहले यूपी का एक फैन अपनी दुकान बेचकर रांची आया था।

इससे पहले जुलाई 2019 में उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के रवींद्र सैनी धोनी से मिलने रांची आए थे. रविंद्र सहारनपुर में अपनी छोटी सी दुकान बेचकर धोनी से मिलने रांची आए थे। यहां भी वह धोनी का आशीर्वाद लेने के लिए दो साल तक भटकते रहे, आखिरकार कामयाब हो गए। मिलने पर धोनी ने भी उनकी भावना का सम्मान किया और उन्हें अपने घर पर गार्ड के रूप में रखा। सैनी ने 2013 से 2018 तक यहां सेवा की। बाद में रवींद्र को अपनी मां की बीमारी के कारण सहारनपुर लौटना पड़ा।

सम्बंधित खबर

.

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here