• हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • झारखंड
  • धनबाद
  • बीबीएमकेयू प्रशासन ने एक बार फिर जारी किया फीस बढ़ाने का नोटिफिकेशन, बीएड फीस में 30 फीसदी की बढ़ोतरी, देना होगा 1.50 लाख रुपये

धनबाद20 घंटे पहले

  • लिंक की प्रतिलिपि करें

सत्र 2021-23 के लिए बिनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्वविद्यालय के तहत बीएड कॉलेजों में नामांकित छात्रों को अब बीएड फीस के लिए 30,000 रुपये अधिक देने होंगे। इस संबंध में विवि प्रशासन ने अधिसूचना जारी कर दी है।

अधिसूचना के मुताबिक अब सत्र 2021-23 में नामांकन लेने वाले सामान्य और ओबीसी छात्रों को 1.50 लाख रुपये और एससी-एसटी वर्ग के छात्रों को 1.40 लाख रुपये देने होंगे. इससे पहले विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा सामान्य और ओबीसी छात्रों के लिए 1.20 लाख रुपये और एससी / एसटी वर्ग के छात्रों के लिए 1.10 लाख रुपये का शुल्क लिया जाता था।

बता दें कि सत्र 2019-21 में भी बीबीएमकेयू प्रशासन द्वारा बीएड की फीस 1.50 लाख रुपये और 1.40 लाख रुपये कर दी गई थी. हालांकि, छात्रों के विरोध के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने फीस घटाकर 1.20 लाख रुपये और 1.10 लाख रुपये कर दी।

कोरोनाकाल में फीस में 12 फीसदी की कटौती की गई

बीबीएमकेयू से संबद्ध कॉलेजों में दाखिला लेने वाले छात्रों के विरोध के बाद झरिया विधायक पूर्णिमा नीरज सिंह ने विधानसभा में फीस में कटौती से जुड़े सवाल पूछे थे. इसके बाद उच्च शिक्षा निदेशालय ने सभी विश्वविद्यालयों को पत्र लिखकर इस मामले पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का आग्रह किया था। छात्र कोरोना काल में आर्थिक संकट का हवाला देते हुए फीस कम करने के लिए अनिश्चितकालीन हड़ताल पर भी बैठ गया. जिसके बाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने 1.20 लाख रुपये और 1.10 लाख रुपये की पूर्व निर्धारित फीस में 12 प्रतिशत की कटौती की घोषणा की थी.

छात्र संगठनों ने कहा- लोग अभी तक कोरोना संकट से नहीं उबरे हैं, फीस बढ़ाना गलत

विभिन्न छात्र संगठनों ने बीएड फीस में बढ़ोतरी को गलत बताया है। छात्र प्रतिनिधियों के अनुसार कोरोना संकट से उपजा आर्थिक संकट अभी खत्म नहीं हुआ है. ऐसे में सत्र 2021-23 से फीस बढ़ाना गलत है। विवि प्रशासन इस पर विचार करे, नहीं तो छात्र आंदोलन करने को मजबूर होंगे।

और भी खबरें हैं…

.

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here