◆ जिले में आए सभी 29 व्यक्तियों को होम क्वॉरेंटाइन में रहने के निर्देश के साथ पहुंचाया जा रहा है गांव-घर

◆ जिले में वापस लौटे सभी श्रमिक मनोहरपुर, गोइलकेरा प्रखंड के हैं निवासी

चाईबासा: पश्चिमी सिंहभूम जिला उपायुक्त अरवा राजकमल के द्वारा जानकारी दी गई कि विगत 01 मई को रात्रि 11:00 बजे सिकंदराबाद से रेल के द्वारा राँची के हटिया स्टेशन पहुंचे जिले के सभी 29 श्रमिकों को जिला प्रशासन के द्वारा चाईबासा शहर स्थित आईटीआई मैदान में वेलकम किया गया। सभी मजदूरों की स्वास्थ्य जांच कर उनके संबंधित गृह प्रखंड मुख्यालय में भेजा गया है, जहां से प्रखंड विकास पदाधिकारी के द्वारा व्यक्तियों को उनके गांव-घर तक होम क्वॉरेंटाइन में रहने के निर्देश के साथ पहुंचाया जा रहा है।

आने वाले सभी लोगों को रिसीव करने के लिए की गई है आवश्यक व्यवस्था

उपायुक्त ने बताया कि संपूर्ण तालाबंदी के दौरान जिले/ राज्य से बाहर फंसे सभी श्रमिक/तीर्थयात्री/ पर्यटक के वापस जिला लौटने पर रिसीव करने के लिए आईटीआई मैदान में वाहन सेल का गठन किया गया है, जहां पर आने वाले सभी प्रकार के व्यक्तियों के आराम, खाने-पीने, स्वास्थ्य जांच के साथ उनके पंजीयन की भी व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। जिला प्रशासन ऐसे सभी लोगों का जिला में वापस लौटने पर स्वागत करने के लिए तैयार है।

लौटने वाले सभी व्यक्तियों का तैयार किया जा रहा है डाटावेस

उपायुक्त के द्वारा जानकारी दी गई कि दूसरे राज्य/ जिला से इस जिले में वापस लौट रहे सभी प्रकार के व्यक्तियों का रिसीविंग सेंटर पर ही डेटाबेस तैयार किया जा रहा है। जिसके लिए जिला भू अर्जन पदाधिकारी श्री एजाज़ अनवर के नेतृत्व में तीन अन्य पदाधिकारियों को शामिल करते हुए निबंधन सेल को भी क्रियान्वित किया गया है। सेल के द्वारा आने वाले सभी व्यक्तियों का नाम, आधार कार्ड संख्या, संपर्क सूत्र, आने वाले स्थान का नाम, जाने वाले स्थान का नाम के साथ-साथ ट्रेंड/अनट्रेंड श्रमिक श्रेणी की जानकारी ली जा रही है।

आईटीआई मैदान स्थित रिसीविंग सेंटर पर लौट रहे सभी श्रमिक बंधुओं का स्वागत करने हेतु जिला भू अर्जन पदाधिकारी के नेतृत्व में कार्यपालक दंडाधिकारी श्री किस्कु, श्री गुलाम समदानी, नजारत प्रभारी श्री रवि कुमार सहित अन्य पदाधिकारी एवं जिला/पुलिस प्रशासन के कर्मी उपस्थित रहे।