झारखंड से बिहार को स्पिरिट की आपूर्ति का एक बड़ा नेटवर्क उजागर हो गया है। बिहार पुलिस की निषेध इकाई ने 29-30 सितंबर की रात पलामू के छतरपुर इलाके में छापेमारी कर भारी मात्रा में शराब बरामद की है. इसे स्पिरिट के गोदाम में जमा कर बिहार भेजने के लिए रखा गया था। पुलिस ने गोदाम मालिक लालू यादव को गिरफ्तार कर लिया है.

निषेध इकाई के मुताबिक 14 अगस्त को आमस में स्पिरिट ले जा रहे एक ट्रक को पकड़ा गया था. ट्रक चालक को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। इस मामले की जांच में पता चला कि पलामू के छतरपुर थाने के चौगड़ा से स्पिरिट की खेप भेजी गई है. इसके बाद 29-30 सितंबर की रात छत्तापुर व नवा थाने की पुलिस के साथ मद्य निषेध इकाई पटना की टीम ने नौगढ़ में छापेमारी की. यह इलाका पहले से ही नक्सल प्रभावित है, इसलिए पुलिस को छापेमारी के दौरान काफी एहतियात बरतनी पड़ी. नौगढ़ा के ही एक गोदाम में एक गैलन में रखा 22400 लीटर स्प्रिट बरामद किया गया। इसके अलावा 200 खाली गैलन भी मिले। पुलिस ने गोदाम मालिक लालू यादव को गिरफ्तार कर लिया है. इस संबंध में छतरपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है.

बिहार में सप्लाई होती थी स्पिरिट

मद्यनिषेध इकाई के अधिकारियों का मानना ​​है कि आत्मा वहां से बिहार भेजी गई थी। अब तक इसकी सप्लाई चेन औरंगाबाद, गया और छपरा में ट्रेस की जा चुकी है। यह इतने बड़े पैमाने पर कहां से और कैसे पहुंचा, इसकी भी जांच की जा रही है। मामले की तह तक जाने के लिए जल्द ही आमस थाने में दर्ज मामले में लालू यादव को रिमांड पर लिया जाएगा.

पलामू में बरामद हुई आत्मा की तीसरी खेप

निषेध इकाई के अनुसार पलामू में स्प्रिट के अवैध भंडारण के खिलाफ कार्रवाई की जाती है. यह तीसरी बार है जब बिहार पुलिस की कार्रवाई में बड़े पैमाने पर स्प्रिट बरामद हुई है.

सम्बंधित खबर

.

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here