रांचीएक घंटा पहले

  • लिंक की प्रतिलिपि करें

कृषि मंत्री ने कहा कि इस वर्ष 60 की जगह 62 क्विंटल धान की खरीद हुई है. अगले वर्ष 80 क्विंटल धान का लक्ष्य रखा जाएगा. (फाइल फोटो)

झारखंड में लगेगा 100 किसान मेला इसमें किसानों को कृषि और पशुपालन से संबंधित केंद्र और राज्य प्रायोजित योजनाओं की विस्तृत जानकारी दी जाएगी. साथ ही प्रदेश के वंचित किसानों को भी योजनाओं से जोड़ा जाएगा। मेले के आयोजन में कोविड दिशा-निर्देशों का पूरा ध्यान रखा जाएगा।

यह जानकारी कृषि, पशुपालन एवं सहकारिता मंत्री बादल पत्रलेख ने सोमवार को दी। उन्होंने कहा कि किसान ऋण माफी योजना के तहत अब तक राज्य के 5.79 लाख किसानों का डाटा अपलोड किया जा चुका है. इस हिसाब से 2.58 लाख किसानों का कर्ज माफ किया गया है।

कृषि मंत्री ने कहा कि सरकार ने 9.02 लाख किसानों की कर्जमाफी का लक्ष्य रखा है जो प्रक्रियाधीन है और अब तक 1036 करोड़ की राशि बैंकों को दी जा चुकी है.

600 लैंप पैक को दी जाएगी कार्यशील पूंजी
राज्य में किसान को सशक्त बनाने और सरकारी योजनाओं का समय पर लाभ सुनिश्चित करने के लिए सभी लैंप और पैक को मजबूत किया जाएगा। इसके लिए राज्य के 600 LAMPS PACS को कार्यशील पूंजी दी जाएगी। साथ ही इन्हें प्रज्ञा केंद्र के रूप में विकसित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सहकारिता विभाग 19 स्थानों पर 5000 मीट्रिक टन क्षमता के कोल्ड स्टोरेज का निर्माण कर रहा है और शेष 6 जिलों में स्वीकृति दे दी गई है.

निर्धारित लक्ष्य से 2 लाख क्विंटल अधिक धान
इस वित्तीय वर्ष में 60 लाख क्विंटल धान का लक्ष्य रखा गया था, जबकि हमने 103% धान खरीद कर 62 लाख क्विंटल से अधिक की खरीद की है. अगले वित्तीय वर्ष में 80 लाख क्विंटल धान की खरीद का लक्ष्य रखा गया है।

और भी खबरें हैं…

.

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here