रांची2 घंटे पहले

  • लिंक की प्रतिलिपि करें

इस मामले में कांग्रेस के बेरमो विधायक कुमार जयमंगल सिंह ने 22 जुलाई को कोतवाली थाने में शिकायत दर्ज कराई थी. उन्होंने कहा था कि कुछ लोग हवाला के पैसे से विधायकों की खरीद-फरोख्त की कोशिश कर रहे हैं. (फाइल फोटो)

झारखंड में हेमंत सोरेन सरकार गिराने की साजिश रचने के आरोप में गिरफ्तार तीनों आरोपियों को शनिवार को जमानत मिल गई. उनके खिलाफ एसीबी द्वारा निर्धारित सीमा के भीतर चार्जशीट दाखिल नहीं की गई है। इसके बाद एसीबी की विशेष अदालत ने राहत दी। कानूनी जानकारों के मुताबिक उन्हें सीआरपीसी 167 का फायदा मिला है.

बेरमो विधायक कुमार जयमंगल सिंह की शिकायत पर पुलिस ने 22 व 23 जुलाई को रांची के बड़े होटलों में गुपचुप छापेमारी की थी. यहां से तीन लोगों अभिषेक दुबे, अमित सिंह और निवारण प्रसाद महतो को गिरफ्तार किया गया। उनके खिलाफ कोतवाली थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। तब से तीनों जेल में थे।

कांग्रेस विधायक ने दर्ज कराई शिकायत

इस मामले में कांग्रेस के बेरमो विधायक कुमार जयमंगल सिंह ने 22 जुलाई को कोतवाली थाने में शिकायत दर्ज कराई थी. उन्होंने कहा था कि कुछ लोग हवाला के पैसे से विधायकों की खरीद-फरोख्त की कोशिश कर रहे हैं. वे एक स्थिर सरकार को अस्थिर करने की कोशिश कर रहे हैं। 3-4 ऐसे लोगों को रांची में कुछ दिनों से फ्रीज किया गया है.

हवाला कारोबार को लेकर कई उद्योगपतियों के यहां छापे मारे गए।

उस दौरान हवाला कारोबार के नाम पर कई छापे भी मारे गए थे। 16 जुलाई को रांची, धनबाद और बोकारो में कई कारोबारियों के ठिकानों पर छापेमारी की गई थी. वहीं रांची शहर में भारी रकम आने की सूचना पर पुलिस ने पूरे शहर में सघन जांच अभियान चलाया था. रांची में ट्रैवल एजेंसी के दो दफ्तरों पर छापेमारी की गई.

4 दिन पहले झामुमो विधायक ने दर्ज कराया केस

झारखंड में एक बार फिर हेमंत सरकार को अस्थिर करने की कोशिश का मामला सामने आया है. कांग्रेस विधायकों की खरीद-फरोख्त में नाकाम रहने के बाद अब झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के विधायकों को निशाना बनाया जा रहा है. इस संबंध में झामुमो के घाटशिला के विधायक रामदास सोरेन ने रांची के धुरवा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है.

और भी खबरें हैं…

.

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here