• हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • झारखंड
  • सीबीआई आरोपी को राजधानी एक्सप्रेस से गांधीनगर ले गई, दोनों का होगा नार्को और ब्रेन मैपिंग टेस्ट

धनबाद2 घंटे पहले

धनबाद में एडीजे उत्तम आनंद की हत्या के मामले में सीबीआई मंगलवार रात ऑटो चालक लखन वर्मा और सहयोगी राहुल वर्मा को लेकर दिल्ली से गुजरात के गांधीनगर के लिए रवाना हुई. दोनों को सीबीआई सोमवार को राजधानी एक्सप्रेस से दिल्ली ले गई। गांधीनगर में दोनों आरोपियों का नार्को और ब्रेन मैपिंग टेस्ट किया जाएगा। इस संबंध में सीबीआई को कोर्ट की अनुमति मिल गई है।

28 जुलाई को धनबाद के रणधीर वर्मा चौक पर ऑटो की टक्कर में जज की मौत हो गई थी. इस मामले में लखन और राहुल को गिरफ्तार किया गया था।

सीबीआई ने जारी किया पोस्टर

साजिशकर्ता को सुराग देने पर सीबीआई देगी 5 लाख का इनाम, गुप्त रहेगा नाम
इधर, न्यायाधीश उत्तम आनंद की हत्या का मामला दर्ज कर जांच कर रही सीबीआई को अब तक कोई सबूत नहीं मिला है. मुख्य आरोपी ऑटो चालक लखन वर्मा व उसके सहयोगी राहुल वर्मा समेत 250 लोगों से पूछताछ की है। सीबीआई ने सुराग हासिल करने के लिए जिले के विभिन्न चौराहों पर विज्ञापन चिपकाकर ठोस सुराग देने वाले को पांच लाख रुपये का इनाम देने की घोषणा की है.

विज्ञापन में लिखा है- ‘अगर किसी व्यक्ति के पास एडीजे हत्याकांड की कोई महत्वपूर्ण जानकारी या जानकारी है तो वह मामले के अन्वेषक के मोबाइल नंबर या विशेष अपराध शाखा-1 के पीएनटी नंबर पर साझा कर सकता है. दिल्ली। ठोस जानकारी देने वाले की पहचान गोपनीय रहेगी और उसे 5 लाख का इनाम दिया जाएगा।

दिल्ली सीबीआई की विशेष अपराध शाखा-1 ने मंगलवार को झारखंड सरकार की सिफारिश और हाईकोर्ट के निर्देश पर प्राथमिकी दर्ज की थी. एडीजे की पत्नी कृति सिन्हा के बयान पर धनबाद सदर थाने में 28 जुलाई को दर्ज प्राथमिकी के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की गयी है.

पुलिस ने अज्ञात ऑटो चालक पर हत्या की धारा में ही आरोप लगाया था। इसलिए सीबीआई ने अपनी प्राथमिकी में ऑटो चालक लखन वर्मा और राहुल वर्मा को भी हत्या की धारा-302 के तहत आरोपी बनाया है. जांच दल में बायोलॉजी, डीएनए प्रोफाइलिंग, फिंगर प्रिंट, फॉरेंसिक साइकोलॉजी और सीरोलॉजी विंग के विशेषज्ञों को भी शामिल किया गया है।

और भी खबरें हैं…

.

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here