• हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • झारखंड
  • 13 दिन पहले सरे एजेंट को बनाया था निशाना, लूट और चोरी की घटना में गिरफ्तार अपराधी पहले भी जा चुके हैं जेल

मेदिनीनगर32 मिनट पहले

  • लिंक की प्रतिलिपि करें

चैनपुर थाना प्रभारी उदय गुप्ता ने बताया कि मामले में गिरफ्तार अपराधी संजय चौधरी चढनवा का रहने वाला है. वह कंपनी का कर्जदार भी है। उसे एजेंट की सभी गतिविधियों की जानकारी थी।

पलामू पुलिस ने 13 दिन पहले एजेंट से हुई लूट की गुत्थी सुलझाई है। इस मामले में गुरुवार को तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है. अपराधियों के घर से चोरी की बाइक बिना नंबर के घटना में प्रयोग की गई है। उनके कहने पर लूटा गया मोबाइल फोन व बैग रबडा के जंगल से बरामद हुआ है. घटना में शामिल दो अपराधी फरार हैं।

चैनपुर थाना प्रभारी उदय गुप्ता ने बताया कि मामले में गिरफ्तार आरोपी संजय चौधरी चढनवा का रहने वाला है. वह कंपनी का कर्जदार भी है। उसे एजेंट की सभी गतिविधियों की जानकारी थी। वह जानता था कि एजेंट गोपाल मोटी रकम लेकर इलाका छोड़ देता है।

दोस्तों के साथ मिलकर लूट की वारदात को अंजाम दिया

इसके बाद संजय ने अपने साथियों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया। इस लूट को अंजाम देने के लिए अपराधियों ने गढ़वा से एक बाइक चोरी की थी. गिरफ्तार अपराधियों में संजय के अलावा अनिल चौधरी और रवि कुमार पाल शामिल हैं. रवि मोटरसाइकिल चोरी के मामले में दो बार जेल जा चुका है।

मेदिनीनगर-गढ़वा मेन रोड पर ही बनाया गया टारगेट

पांडव थाना क्षेत्र के टंडपत्रा निवासी गोपाल कुमार कर्ज की राशि वसूल कर चैनपुर के चढनवा से लौट रहे थे. इसी दौरान मेदिनीनगर-गढ़वा मेन रोड स्थित यादव होटल के पास दो बाइक पर सवार चार अपराधियों ने एजेंट को ओवरटेक कर रोका और फिर हथियारों के बल पर 157000 रुपये लूट लिए. साथ ही एजेंट का मोबाइल फोन व उसका बैग भी लूट लिया।

और भी खबरें हैं…

.

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here