• हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • झारखंड
  • धनबाद
  • दुमका
  • उप निदेशक खनन ने छह जिलों के डीएमओ को लिखा पत्र, कहा-आपकी संलिप्तता से हो रहा है अवैध खनन, इससे राजस्व का नुकसान

दुमका29 मिनट पहलेलेखक: दुष्यंत कुमार

  • लिंक की प्रतिलिपि करें

उप निदेशक की ओर से डीएमओ को लिखा पत्र

  • निर्देश के बावजूद जिला खनन अधिकारी अवैध खनन व परिवहन पर रोक नहीं लगा रहे हैं

दुमका के उप निदेशक खान वेंकटेशन प्रसाद ने संथाल परगना संभाग के सभी जिलों के डीएमओ पर अवैध खनन और परिवहन की जांच के लिए नियमानुसार कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया है. उन्होंने डीएमओ को पत्र लिखकर कहा है कि इससे राज्य सरकार को करोड़ों रुपये के राजस्व का नुकसान हो रहा है. आगे लिखा है कि आप सभी की संलिप्तता के कारण जिलों में खनिजों के खनन, भंडारण और परिवहन में नियमों का उल्लंघन हो रहा है.

इससे राज्य सरकार का खनन राजस्व प्रभावित हो रहा है। अवैध खनन करने वाले तेजी से बढ़ रहे हैं। संथाल परगना वेंकटेश प्रसाद ने दुमका, देवघर, गोड्डा, पाकुड़, साहिबगंज और जामताड़ा के जिला खनन अधिकारियों को अपने पत्र क्रमांक-256 दिनांक 25 अक्टूबर 25 में लिखा है कि इस संबंध में पूर्व में भी कई बार निर्देश दिए जा चुके हैं. . इसके बावजूद अवैध खनन व परिवहन को रोकने के लिए अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। सभी जिलों में अवैध खनन, परिवहन, व्यापार और सरकारी राजस्व का नुकसान हो रहा है.

इन बिंदुओं पर डीएमओ को कार्रवाई के निर्देश

  • खनन पट्टों की वैधता एवं सीमांकन की नियमित जांच करें, ताकि खनन पट्टाधारक अवैध रूप से अतिक्रमण एवं खनन न करें। स्टॉक रजिस्टर आदि की जांच करना भी आवश्यक है।
  • खनन पट्टों पर सीमांकन स्तंभ और साइन बोर्ड लगाए जाने चाहिए। स्वीकृत खनन योजना के अनुसार खनन पट्टा क्षेत्र में ही खनन सुनिश्चित किया जाये।
  • अवैध खनन और परिवहन में शामिल गिरोहों और गैंगस्टरों की पहचान करें और उनके खिलाफ कार्रवाई करें।
  • अवैध क्रशरों की नियमित जांच कर सील करें। साथ ही उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराएं। सभी वैध क्रशरों के स्टॉक रजिस्टर की जांच करना सुनिश्चित करें।
  • प्राय: खनन एवं भंडारण स्थल का प्रयोग खनन पट्टाधारी, अनुज्ञप्तिधारी द्वारा अवैध रूप से स्वीकृत स्थल के बाहर अपनी आवश्यकता अनुसार स्थल के भण्डारण के लिये किया जाता है, जिस पर नियमानुसार शीघ्र कार्यवाही की जाये।

और भी खबरें हैं…

.

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here