बैठक में उप विकास आयुक्त के द्वारा जिले में फलदार वृक्षों की बागवानी करने हेतु प्रोत्साहित करने पर दिया गया बल

चाईबासा : पश्चिमी सिंहभूम जिला मुख्यालय शहर चाईबासा के जिला परिषद् सभागार में जिला उपायुक्त अरवा राजकमल के निर्देशानुसार उप विकास आयुक्त आदित्य रंजन के अध्यक्षता में मनरेगा कार्य के तहत् जिले में बागवानी योजना के सफल क्रियान्वयन हेतु बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में उप विकास आयुक्त के द्वारा बागवानी के तहत् फलदार वृक्षों को लगाने हेतु स्थानीय किसानों को प्रोत्साहित करने पर बल दिया गया है।

प्रत्येक प्रखंड में न्यूनतम 200 एकड़ जमीन पर बागवानी करने हेतु क्षेत्र का चयन निश्चित रूप से 1 सप्ताह में सुनिश्चित किया जाए
बैठक के दौरान उप विकास आयुक्त के द्वारा उपस्थित सभी पदाधिकारियों को जिले में आम पौधा के साथ-साथ अन्य फलदार वृक्षों के बागवानी को बढ़ाने हेतु किसानों को प्रोत्साहित करते हुए प्रत्येक प्रखंड में 200 एकड़ भूमि पर बागवानी कराने के लिए कृषि मित्र के रूप में काम कर रहे कर्मियों को बागवानी मित्र के रूप में काम करने तथा सिंचाई व्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए 10 वृक्षों के लिए एक जलकुंड तथा अन्य सिंचाई के साधनों की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है।

उप विकास आयुक्त ने कहा कि पिट डिगिंग का कार्य दिनांक 31-05-2020 तक करना सुनिश्चित करेंगे जिसका निरीक्षण जिला स्तरीय टीम द्वारा माह जून से किया जाएगा। उप विकास आयुक्त के द्वारा फेंसिंग, पिट फिलिंग और पौधारोपण के कार्य तय समय में पूर्ण करने का निर्देश दिया गया। सभी कार्यों के लिए पदाधिकारी द्वारा समय सीमा निर्धारित की गई।

उप विकास आयुक्त श्री आदित्य रंजन ने निर्देश दिया कि सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी अपने प्रखंडों में जेएसएलपीएस अंतर्गत कार्यरत पदाधिकारी / कर्मी, बीटीएम / बीएओ का सहयोग एवं सीएसओ एवं अन्य प्रखंड स्तरीय कर्मी से तकनीकी सहायता लेना सुनिश्चित करेंगे। सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी अपने स्तर से प्रखंड में कार्यरत पदाधिकारी / कर्मी को नोडल के रूप में नामित करते हुए बागवानी योजना का क्रियान्वयन कराना सुनिश्चित करेंगे।

उक्त बैठक में डीआरडीए निदेशक श्री प्रभात कुमार बरर्दियार, जिला कृषि पदाधिकारी श्री राजेंद्र प्रसाद सहित, जिला भूमि संरक्षण पदाधिकारी, सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, जेएसएलपीएस के जिला कार्यक्रम प्रबंधक, प्रखंड कार्यक्रम प्रबंधक, प्रदान संस्था तथा सृजन फाउंडेशन के टीम मौजूद