• हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • झारखंड
  • रांची
  • उड़ीसा और जम्मू से रांची जाने वाली ट्रेन में मिले 65 नए संक्रमित, सभी सार्वजनिक परिवहन से स्टेशन से घर गए

रांची40 मिनट पहले

  • लिंक की प्रतिलिपि करें

रांची के सिविल सर्जन डॉ. विनोद कुमार ने बताया कि अभी तक एक भी मरीज अस्पताल नहीं पहुंचा है, जबकि अस्पतालों में इलाज की पूरी व्यवस्था है. जो पॉजिटिव मिल रहे हैं, वे अपना नंबर बंद कर रहे हैं, ऐसे में उनका पता लगाना मुश्किल हो रहा है. (फाइल फोटो)

रांची में एक बार फिर कोरोना की वापसी शुरू हो गई है. 72 दिन बाद एक बार फिर राजधानी में कोरोना ब्लास्ट हुआ है और 65 नए संक्रमित मिले हैं. सभी अलग-अलग शहरों से रांची पहुंचे हैं. इसमें 55 अकेले पुरी से आ रही तपस्विनी एक्सप्रेस से मिले हैं, जबकि 10 मरीज जम्मू तवी-हटिया-संबलपुर एक्सप्रेस और राउरकेला-हटिया पैसेंजर ट्रेन से पहुंचे थे.

इसी के साथ रांची में एक्टिव मरीजों की संख्या एक बार फिर 100 (117) के पार पहुंच गई है. संक्रमण की पुष्टि होने के बाद भी प्रशासन ने उन्हें रोकने के बजाय घर जाने की अनुमति दे दी. सभी स्टेशनों से पब्लिक ट्रांसपोर्ट से यात्रा कर अपने-अपने घर पहुंचे। ऐसे में त्योहार के बाद एक बार फिर शहर में कोरोना के तेजी से फैलने की आशंका बढ़ गई है.

जांच में लापरवाही, आधी संख्या
अब रांची और हटिया रेलवे स्टेशनों के अलावा रांची में कोरोना की जांच मुख्य रूप से एयरपोर्ट तक ही सिमट कर रह गई है. कहने को तो हर दिन 15 से ज्यादा केंद्र बन रहे हैं, लेकिन सभी जगह बस बरबाद हो रहे हैं. इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है. रांची में एक महीने में औसतन 60 हजार लोगों की स्क्रीनिंग की जा रही थी. यह अब घटकर 30-35 हजार पर आ गया है।

संक्रमित होने के बाद अपना नंबर बंद करना
रांची के सिविल सर्जन डॉ. विनोद कुमार ने बताया कि अभी तक एक भी मरीज अस्पताल नहीं पहुंचा है, जबकि अस्पतालों में इलाज की पूरी व्यवस्था है. जो पॉजिटिव मिल रहे हैं, वे अपना नंबर बंद कर रहे हैं, ऐसे में उनका पता लगाना मुश्किल हो रहा है.

जिलों को जांच बढ़ाने के दिए आदेश
एनएचएम के निदेशक भुवनेश प्रताप सिंह ने बताया कि जिलों को अधिक से अधिक जांच के आदेश दिए गए हैं. स्टेशनों पर चेकिंग की जा रही है। ट्रेनों से लौटने वाले यात्रियों की जांच के आदेश दिए गए हैं। सभी डीसी को संक्रमितों का पता लगाकर उन्हें अस्पताल में भर्ती करने के आदेश दे दिए गए हैं।

और भी खबरें हैं…

.

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here