• हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • झारखंड
  • रांची
  • सिस्टम की गलती, भुगत रहे छात्र, ग्रेजुएशन परीक्षा से एक दिन पहले फॉर्म जमा कर दिया था एडमिट कार्ड

रांचीतीन घंटे पहले

  • लिंक की प्रतिलिपि करें
  • ऑनलाइन ट्रांजेक्शन फेल होने के कारण सैकड़ों छात्र परीक्षा शुल्क जमा नहीं कर पाए।

रांची विश्वविद्यालय सोमवार से बैचलर ऑफ आर्ट्स, साइंस और कॉमर्स फाइनल सेमेस्टर की परीक्षा आयोजित करने जा रहा है। 25 हजार अभ्यर्थियों के लिए 22 केंद्र बनाए गए हैं। परीक्षा दो सिटिंग में आयोजित की जाएगी। इधर, परीक्षा से एक दिन पहले भी रविवार को ऑफलाइन परीक्षा फॉर्म जमा कर प्रवेश पत्र वितरित किया गया। विभिन्न कॉलेजों के सैकड़ों परीक्षार्थियों को एडमिट कार्ड दिए जा चुके हैं।

बता दें कि पिछले दो दिनों से छात्र रांची विश्वविद्यालय प्रशासन पर आरोप लगा रहे थे कि सोमवार से परीक्षा है, लेकिन अभी तक प्रवेश पत्र नहीं मिला है. तो आप परीक्षा में कैसे उपस्थित होंगे? प्रवेश पत्र के लिए मोरहाबादी परिसर स्थित टैबलेट सेंटर में सुबह से ही परीक्षार्थियों की भीड़ लग गई। रांची विश्वविद्यालय प्रशासन के निर्देश पर रविवार को सभी कॉलेज खुले रहे. जो अभ्यर्थी परीक्षा फार्म जमा करते समय फीस के लेन-देन में असफल रहे थे, उनका ऑफलाइन परीक्षा फार्म महाविद्यालय में भरा गया ताकि वे सोमवार से शुरू होने वाली परीक्षा में शामिल हो सकें।

फाइनल सेमेस्टर : इन विषयों की दो पालियों में होगी परीक्षा

स्नातक अंतिम सेमेस्टर (सत्र 2018-21) की परीक्षा सोमवार से दो पालियों में होगी। पहली पाली की परीक्षा सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे तक और दूसरी पाली की परीक्षा दोपहर 1 बजे से शाम 4 बजे तक होगी. पहली पाली में हिंदी, राजनीति विज्ञान, समाजशास्त्र, दर्शनशास्त्र, संस्कृत, उर्दू, बंगाली और मनोविज्ञान की परीक्षाएं होंगी। दूसरी पाली में अर्थशास्त्र, भौतिकी, रसायन विज्ञान, गणित, वनस्पति विज्ञान, प्राणीशास्त्र और भूविज्ञान की परीक्षाएं होंगी।

इस वजह से छात्रों को नहीं मिला एडमिट कार्ड

परीक्षा फॉर्म जमा करने की अंतिम तिथि 6 अक्टूबर तक थी। शुल्क लेनदेन में विफलता के कारण प्रवेश पत्र जारी नहीं किया जा सका। ऐसे छात्रों को रविवार को ऑफलाइन फॉर्म भरने के बाद एडमिट कार्ड दिया गया। लेकिन उन छात्रों ने भी फॉर्म जमा कर दिया है, जिनका पिछले सेमेस्टर की परीक्षा में बैकलॉग है। ऐसे छात्र नियमानुसार अंतिम सेमेस्टर की परीक्षा नहीं दे सकते।

और भी खबरें हैं…

.

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here