चाईबासा१३ घंटे पहले

  • लिंक की प्रतिलिपि करें
  • खुशाल कोल्हान में कितना खनिज लूटा गया है
  • पश्चिमी सिंहभूम के बाराजामदा में देखिए खनन माफिया का राज
  • पुलिस ने सम्मानित शिक्षक के घर से बरामद लोडर

झारखंड की दौलत लूटने में राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित शिक्षक भी पीछे नहीं रहे. एक भागीदार के रूप में, राजा तिर्की के साथ बाराजमदा के प्रमुख बंद क्रशरों से लौह अयस्क की कालाबाजारी में शामिल थे।

फिलहाल वे पुलिस की गिरफ्त से फरार हैं, वहीं बाराजामदा पुलिस शिक्षक के घर से काले कारनामे के सबूत जुटाने के लिए सीसीटीवी कैमरे को अपने कब्जे में लेने की कोशिश कर रही है, लेकिन पासवर्ड के कारण पुलिस जांच में जुट गई है. ठप हो जाना। .

वहीं, बाराजमाड़ा थाने में शिक्षक की पत्नी व बेटे के नाम लोडर व अन्य वाहन जब्त कर लिया गया है. वहीं चर्चा यह भी है कि लोहे की तस्करी में बाराजमदा के चार स्थानीय लोग भी शामिल हैं, जिनके नाम अभिषेक गुप्ता, गौतम गुप्ता और बाराजमदा के अध्यक्ष पुरस्कार विजेता शिक्षक के बेटे हैं.

बाराजमदा पुलिस ने राष्ट्रपति के पुरस्कार विजेता शिक्षक के घर में लगे सीसीटीवी कैमरे को निकालकर बाराजमदा थाने में लाया है, जिससे जांच में बड़ा खुलासा होने की उम्मीद है.

लौह अयस्क की तस्करी में बाराजमदा थाने की भी चर्चा हो रही है।

यहां चर्चा है कि इस लौह अयस्क की तस्करी में बाराजमदा थाना का भी सबसे बड़ा हाथ है. बताया जा रहा है कि बाराजमदा थाने की मिलीभगत से अवैध लौह अयस्क की तस्करी की जा रही थी. जब तक सीसीटीवी फुटेज की जांच नहीं होगी, इस अवैध लोहे और तस्करी में कौन शामिल है, इसका पूरी तरह से पता नहीं चल पाएगा। सूत्रों के मुताबिक इस बात का भी पता चला है कि इस सीसीटीवी फुटेज को फॉर्मेट करने की भी कोशिश की जा रही है, ताकि इसमें कैद सबूतों को छुपाया जा सके.

साथ ही बाराजमदा पुलिस ने राष्ट्रपति पुरस्कार विजेता प्राचार्य के घर से बुधवार आधी रात को लोहे और लोहे की तस्करी में शामिल लोडर को बरामद कर लिया है. यह चर्चा भी जरूरी है कि पिछले तीन महीने से उस बंद क्रशर से लौह अयस्क की चोरी हो रही थी और स्थानीय पुलिस को इस बात की जानकारी नहीं है कि यह भी चिंता का विषय है. खैर जो भी हो, यह बड़ी जांच का विषय है।

और भी खबरें हैं…

.

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here