विज्ञापन के साथ फेड? विज्ञापनों के बिना समाचार के लिए दैनिक भास्कर एप्लिकेशन इंस्टॉल करें

कोडरमा6 दिन पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना
  • अधिक खनन पाए जाने पर खदान संचालकों से रॉयल्टी वसूली जाएगी

खनन विभाग द्वारा जिले में संचालित खदानों से बोल्डर पत्थरों की निकासी के अनुसार राजस्व प्राप्ति के लिए एक बार फिर खदानों का खनन शुरू किया गया है। विभाग ने पिछले 5 जनवरी से डोमचांच ब्लॉक के चंचल पहाड़ी के पास स्थित लगभग एक दर्जन खदानों की माप शुरू कर दी है। जिला खनन अधिकारी मिहिर सालकर ने कहा कि अब तक दो खानों को मापा गया है। वहीं, अन्य खदानों को मापने का काम चल रहा है। उन्होंने कहा कि खदानों से निकाले जाने वाले बोल्डर के अनुसार, रॉयल्टी का भुगतान न करने की शिकायत पर उपायुक्त को खदानों को मापने का निर्देश दिया गया था। जिसके एवज में पहले 5 खदानें मापी गई थीं।

दूसरे चरण में, चंचल पहाड़ी के आसपास चलने वाली लगभग एक दर्जन खानों को मापने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। डीएमओ ने कहा कि खदानों को मापने के बाद, खदान संचालकों द्वारा भुगतान की गई रॉयल्टी का मिलान वहां से निकाले गए बोल्डर की मात्रा के अनुसार किया जाएगा, साथ ही रॉयल्टी की अधिकता पाए जाने पर खदान संचालकों से ऐसे पत्थरों की बरामदगी की जाएगी। । इससे पहले, डोमचांग क्षेत्र में ही, इन खदान संचालकों के खिलाफ 5 खानों की माप के दौरान अधिक पत्थर निकालने के लिए 94 लाख का जुर्माना लगाया गया था। जिसके एवज में 2 खदान संचालकों द्वारा 50 प्रतिशत राशि जमा की गई है। वहीं, 20-25 प्रतिशत राशि का भुगतान दूसरों ने किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here