• हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • झारखंड
  • धनबाद
  • देवघर
  • आज से 11 विभागों में प्रतिदिन 200 मरीजों का इलाज 30 रुपये में पंजीयन के बाद एक साल तक डॉक्टरों से परामर्श ले सकेंगे।

देवघर2 घंटे पहले

  • लिंक की प्रतिलिपि करें

कार्यक्रम के दौरान दीप प्रज्ज्वलित करते हुए सांसद निशिकांत, मंत्री हफीजुल.

  • केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने देवघर एम्स की ओपीडी का उद्घाटन किया

देवघर एम्स में ओपीडी शुरू केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने मंगलवार को दिल्ली से इसका वर्चुअल उद्घाटन किया। ओपीडी के साथ रैन बसेरा का उद्घाटन किया। यह देश का 13वां एम्स है। यह पूर्वी भारत का पहला एम्स है, जहां रैन बसेरा भी बनाया गया है। इसमें मरीजों के परिजनों के लिए व्यवस्था की जाएगी। अभी रैन बसेरा का उपयोग पढ़ने के लिए किया जाएगा।

ओपीडी भवन बनने के बाद रैन बसेरा अपने मूल स्वरूप में हो जाएगा। यहां बुधवार से रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएंगे। पंजीकरण के लिए 30 का भुगतान करना होगा। इसके बाद एक साल तक मरीज परामर्श ले सकेंगे। इस अवसर पर मंडाविया ने कहा कि देवघर बाबा की नगरी है। यहां देश-विदेश से लाखों श्रद्धालु पहुंचते हैं। ऐसे में देवघर में एम्स की शुरुआत श्रद्धालुओं के लिए भी मील का पत्थर साबित होगी.

पंजीकरण सुबह 8:30 बजे से 10:30 बजे तक होगा

देवघर एम्स के कार्यकारी निदेशक डॉ. सैरव वार्ष्णेय ने बताया कि अब काेराेना काल है. इसलिए रोजाना 200 मरीजों का ही रजिस्ट्रेशन होगा। समय सुबह 8:30 से 10:30 बजे तक रहेगा। पंजीकरण शुल्क 30 रुपये है, जिसमें मरीज एक साल तक चिकित्सकीय परामर्श ले सकेंगे। बाद में मरीजों की संख्या भी बढ़ाई जाएगी और ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था होगी। आने वाले दिनों में कैशलेस रजिस्ट्रेशन भी शुरू हो जाएगा।

NS

ओपीडी में सेवाएं देंगे ये विशेषज्ञ डॉक्टर

जनरल मेडिसिन: डॉ मंजू के सरकार, डॉ राजेश कुमार, डॉ बी दास मुंशी जनरल सर्जरी: डॉ एसआर पात्रा, डॉ एन रंजन, डॉ एपी आर्य। शिशु राग: डॉ सराज त्रिपाठी, डॉ राज कुमार, डॉ मनोज कुमार। अस्थि क्रोध: डॉ मनीष राज, डॉ विकास राज, डॉ सितांशु बारिक। मनारेग: डॉ वीएल नरसिम्हा, डॉ शांतनु नाथ। महिला रोष: डॉ. प्रियंका राय, डॉ. विनीता, डॉ. स्वाति प्रिया। आई रेगे: डॉ. रश्मि कुमारी, डॉ. ए. ओंकार। नाक, कान, गले की बीमारी : डॉ. एस अंग्रल। त्वचा पर जलन: डॉ अर्पिता एन राउत। संसा रेगे: डॉ अर्चना मलिक। कर्क: डॉ अमिया अर्नव।

मरीजों को भी मिलेगी रियायती दरों पर दवाएं: एम्स ने ओपीडी परिसर में ही मरीजों को सस्ती दरों पर दवाएं उपलब्ध कराने के लिए अमृत फार्मेसी के साथ करार किया है। ओपीडी में 40 कमरे हैं। मरीजों के बैठने के लिए वातानुकूलित वेटिंग हॉल है।

और भी खबरें हैं…

.

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here