विज्ञापन के साथ फेड? विज्ञापनों के बिना समाचार के लिए दैनिक भास्कर एप्लिकेशन इंस्टॉल करें

हजारीबाग5 दिन पहले

  • प्रतिरूप जोड़ना
  • रैयतों ने मुआवजा देने से पहले काम नहीं होने देने का फैसला किया

पंचशील कॉलोनी खपरियावां में रिंग रोड के निर्माण से प्रभावित रैयतों की बैठक हुई। इस बैठक में सड़क निर्माण के लिए जिला प्रशासन द्वारा भूमि अधिग्रहण और मुआवजे के बारे में विस्तृत चर्चा की गई। रिंग रोड खपरियावां में NH 33 में शामिल होने का काम किया जा रहा है, लेकिन जिन रैयतों की जमीन ली जा रही है, उन्हें कोई जानकारी नहीं दी गई है और न ही मुआवजा दिया गया है। बिना नोटिस के बिना मुआवजा दिए काम किया जा रहा है।

खतियानी परिवार के केंद्रीय अध्यक्ष नागेश्वर प्रसाद मेहता की अध्यक्षता में एक बैठक में रैयतों ने कहा कि 02 जून 2020 को उपायुक्त और जिला भूमि अधिग्रहण अधिकारी और जन प्रतिनिधियों को लिखित सूचना दी गई थी लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। है। जबकि कंपनी द्वारा जबरन सड़क निर्माण कार्य किया जा रहा है। बैठक में संघर्ष समिति के अध्यक्ष नागेश्वर मेहता, सचिव अजय मेहता, उपाध्यक्ष शिवा जी, सचिव आशीष प्रकाश, कोषाध्यक्ष सूचना नायक, संजय सिंह, हेमा जी, अरुण कुमार सिंह, खेमलाल साव, राकेश सिन्हा, रामकिशुन साव, अशोक साव, प्रमुख थे। केदार साव, कृष्ण महतो, लोकनाथ राणा, बिंदेश्वरी प्रसाद, रामानंद सिंह, अरुण कुमार, सत्येंद्र प्रसाद, डॉ। बालेश्वर राम, रिंकू जैन, नवीन जैन, चौबे आदि सैकड़ों लोगों ने भाग लिया। बैठक का संचालन अजय मेहता ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here