धनबाद20 घंटे पहले

  • लिंक की प्रतिलिपि करें

स्वच्छता सर्वेक्षण का स्वरूप अब बदल रहा है। केंद्र सरकार ने 2022 में होने वाले स्वच्छता सर्वेक्षण का नाम आजादी@75 रखा है। अगले साल इसी नाम से सर्वे होगा। इस सर्वे का स्कोर भी पहले के मुकाबले ज्यादा होगा। पहले जहां सर्वेक्षण के कुल अंक 6000 निर्धारित थे, वहीं केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय ने अब इसे बढ़ाकर 7500 कर दिया है। सर्वेक्षण में पहली बार स्वच्छता कर्मियों की सुरक्षा पर भी अंक निर्धारित किए गए हैं। 2022 के लिए स्वच्छता सर्वेक्षण फरवरी में शुरू होगा।

इस तरह स्वच्छता सर्वेक्षण में अंक निर्धारित किए जाएंगे।
सेवा स्तर पर 300 अंक: इस बार सर्वे में सेवा स्तर की प्रगति पर 40 प्रतिशत यानी 3000 अंक मिलेंगे. इसमें यह देखा जाएगा कि सफाई व्यवस्था में डिजिटल ड्रेकिंग सिस्टम लागू होता है या नहीं। कचरे को अलग किया गया है या नहीं।

सिटीजन फीडबैक पर 2250 अंक: सिटीजन फीडबैक इस बार भी निर्णायक होगा। सर्वे का 30 फीसदी यानी 2250 अंक फीडबैक से ही मिलने हैं. इनमें आपदा, महामारी व अन्य स्थितियों से निपटने के लिए किए गए प्रबंधों की समीक्षा होगी।

अगले सर्वे में शत-प्रतिशत वार्डों को शामिल किया जाएगा

इस बार सर्वे में शत-प्रतिशत वार्ड शामिल होंगे। इनमें कई बिंदुओं पर शौचालयों की स्थिति, स्वास्थ्य जांच और स्वास्थ्य कर्मियों के बीमा की जांच की जाएगी।

निगम ने शुरू की अगले सर्वे की तैयारी

सर्वे के लिए नई गाइडलाइंस जारी होने से पहले ही नगर निगम ने अपनी तैयारी शुरू कर दी है। गाइडलाइन के अनुरूप कई बिंदुओं पर रणनीति तैयार की गई है।

और भी खबरें हैं…

,

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here