रांची19 मिनट पहले

  • लिंक की प्रतिलिपि करें

आईजी कैंपेन एवी होमकर ने दावा किया कि यह अवैध हथियारों के तस्करों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई है. इसमें तस्करों के साथ-साथ उनके नेटवर्क को भी तबाह कर दिया गया है.

झारखंड आतंकवाद निरोधी दस्ते (ATS) ने देश में नक्सलियों और आपराधिक गिरोहों को हथियार सप्लाई करने वाले तस्करों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है. देश के पांच राज्यों बिहार, महाराष्ट्र, पंजाब, राजस्थान और मध्य प्रदेश में अलग-अलग जगहों पर छापेमारी कर पांच तस्करों को गिरफ्तार किया गया है.

इसमें पंजाब के फिरोजपुर की बीएसएफ-116 बटालियन के हेड कांस्टेबल कार्तिक बेहरा भी शामिल हैं। इसके अलावा बिहार के सारण से 114 बटालियन से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेने वाले अरुण कुमार सिंह, एमपी से कुमार गुरलाल ओचवारे, शिवलाल धवन सिंह चौहान, हीराला गुमान सिंह ओचवारे शामिल हैं.

इनके पास से नौ हजार से ज्यादा कारतूस, 14 आधुनिक पिस्टल, 21 मैगजीन और कई सामान बरामद किया गया है। इस पूरे ऑपरेशन में अब तक कुल नौ लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। इनमें एक बीएसएफ जवान और एक सेवानिवृत्त जवान शामिल हैं। झारखंड एटीएस के एसपी प्रशांत आनंद और आईजी कैंपेन एवी होमकर ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मामले की जानकारी दी.

तस्करों के पास से नौ हजार से ज्यादा कारतूस कारतूस, 14 आधुनिक पिस्टल, 21 मैगजीन और कई सामान बरामद किया गया है।

तस्करों के पास से नौ हजार से ज्यादा कारतूस कारतूस, 14 आधुनिक पिस्टल, 21 मैगजीन और कई सामान बरामद किया गया है।

एमपी और महाराष्ट्र की सीमा से देशभर में सप्लाई की जाती थी
आईजी अभियान एवी होमकर ने बताया कि उनकी सांठगांठ का मुख्य केंद्र एमपी और महाराष्ट्र की सीमा थी. महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले और मप्र के बुरहानपुर जिले में स्थित एक जगह पर उनका पूरा सेट अप था। उसके पास हथियार बनाने की फैक्ट्री भी थी। यहां हथियार तैयार कर अपने नेटवर्क के जरिए अलग-अलग जगहों पर सप्लाई कर रहे थे।

देश भर में हथियारों की आपूर्ति करता था
आईजी अभियान ने कहा कि यह गिरोह झारखंड समेत देश भर में नक्सलियों और संगठित अपराधियों को हथियार सप्लाई करता था. एटीएस एसपी प्रशांत आनंद ने बताया कि इस गिरोह का सरगना अरुण कुमार है, जिसने बीएसएफ की 116 बटालियन से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ली है। उसके मौके पर एटीएस की टीम ने अलग-अलग जगहों से लोगों को गिरफ्तार किया है.

अन्य एजेंसियों ने भी शुरू की कार्रवाई
आईजी ने बताया कि इस गिरोह से और भी कई कड़ियां मिली हैं. इसी के आधार पर देश की अन्य सुरक्षा एजेंसियां ​​कई जगहों पर छापेमारी कर रही हैं. इस पूरे अभियान का नेतृत्व एएसपी कपिल चौधरी कर रहे थे।

नक्सलियों को हथियार सप्लाई करते थे सीआरपीएफ के जवान झारखंड एटीएस ने तीन को किया गिरफ्तार, सभी बिहार से; 450 राउंड गोलियां भी बरामद

हथियार तस्कर निकला बीएसएफ का रिटायर्ड जवान : झारखंड के बाद पटना से सटे सोनपुर में बड़ी कार्रवाई, संयुक्त अभियान में 919 गोलियों के साथ गिरफ्तार

और भी खबरें हैं…

,

Source by [author_name]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here